ITR क्या है ?और ITR भरने के फायदे क्या होते है ?-अभी जान लो

नमस्कर दोस्तो ! आज के आर्टिकल में हम बात करेंगे Income Tax Return(ITR) के बारे.और जानेंगे आखिर ITR क्या होता है ?,ITR क्यू फाइल करनी चाहिए ? और इस ITR भरने के फायदे क्या होते है ? इन सब सवाल के जवाब आज आपको मिलने वाले है.तो चलिए आर्टिकल शुरू करते है.

ITR Full Form In Hindi

ITR का फुल फॉर्म होता है Income Tax Return,और हिंदी में इसे आय कर रिटर्न बोला जाता है.

What Is ITR In Hindi (ITR क्या है ?)

ITR भरने के फायदे

दोस्तो ITR फाइल करना मतलब पिछले Financial Year का सरकार को डिटेल में ओवरव्यू देना जैसे की,पिछले Financial Year आपने कितने पैसे कमाए ?,कहा कहा से कमाए ?,कितने खर्च किए ? कितन बचाए ?,कितने पैसे इन्वेस्ट किए इन सब चीजों की सरकार को डिटेल में इनफॉर्मेशन देनी पड़ती है,एक फॉर्म पर उसे ITR फाइल करना बोला जाता है.

लेकिन कुछ लोगो को लगता है ITR फाइल करना मतलब टैक्स जमा कराना.तो ऐसा नहीं है,टैक्स जमा कराना और ITR फाइल करना दोनो अलग अलग चीज़े होती है.

ITR फाइल करने के बाद,अगर आप पर किसी तरह की कोई Tax Liability बन जाती है,तब जाकर आपको वो टैक्स पे करना होता है.

ITR कोन फाइल कर सकता है ?

ITR भरने के फायदे

भारत में आईटीआर फाइल करने को लेकर नॉर्मल सिटीजन,सीनियर सिटीजन और सुपर सीनियर सिटीजन के बीच कुछ नियम बनाए गए है.जैसे की,

  • किसी नॉर्मल सिटीजन की सालाना इनकम 2,50,000 रुपए से ज्यादा है,तो उसे आईटीआर फाइल करना जरूरी है.
  • किसी सीनियर सिटीजन की सालाना इनकम 3,00,000 रुपए से ज्यादा है,तो उसे आईटीआर फाइल करना जरूरी है.
  • वही अगर किसी सुपर सीनियर सिटीजन की सालाना इनकम 5,00,000 रुपए से ज्यादा है,तो उसे आईटीआर फाइल करना जरूरी है.

मान लो दोस्तो अगर किसी नॉर्मल/सीनियर/सुपर सीनियर सिटीजन की इनकम आईटीआर फाइल करने के रेंज में नहीं आती ? तो भी वो पर्सन आईटीआर फाइल कर सकता है.

For Example:अगर किसी नॉर्मल सिटीजन की सालाना इनकम 2,50,000 रुपए से कम है,तब भी वो चाहे तो अपनी आईटीआर फाइल कर सकता है.और इसके कई सारे बेनिफिट भी उनको मिलते है.

ITR भरने के फायदे

ITR भरने के फायदे
ITR भरने के फायदे

ITR क्या है ? और ITR कोन फाइल कर सकता है ? ये समझ ने के बाद,अब ITR फाइल करने के क्या फायदे होते है ? इसके बारे में बात करते है.(What Are The Benefits Of ITR Filing?)

1.लोन मिलने में आसानी.

बैंक में लोन के लिए अप्लाई करते वक्त आपका इनकम प्रूफ देखा जाता है.और खास कर होम लोन के लिए अप्लाई कर रहे हो,तो पिछले तीन साल की ITR प्रूफ के तौर पर मांगी जाती है.

अगर आप बिना ITR के लोन के लिए अप्लाई करते हो,तो बैंक इस केस में साफ साफ मना भी कर सकता है.वही अगर आप टाइम टू टाइम ITR फाइल करते हो,तो वहा पर लोन मिलने के चांस बढ़ जाता है.

2.ITR Certificate.

भारत में जो भी पर्सन इनकम टैक्स फाइल करता है.उन्हे एक सर्टिफिकेट दिया जाता है.और वो सर्टिफिकेट गवर्मेंट के तरफ से प्रूफ होता,जिससे किसी पर्सन की सालाना इनकम का पता चल जाता है.जिस से भविष्य में आपको क्रेडिट कार्ड या फिर लोन की सुविधा मिलने में आसानी होती है.

3.रिफंड क्लेम कर सकते हो.

कई बार क्या होता है,जो जॉब करने वाले आम आदमी होते है,वो टैक्स स्लैब के रेंज में नहीं आते,फिर भी कुछ कारणों के चलते उनका TDS कट जाता है.

तो डरो मत ITR फाइल करो.और अपना रिफंड क्लेम करो.इनकम टैक्स डिपार्टमेंट आपके ITR का एसेसमेंट करता है,अगर रिफंड बन रहा है,तो डिपार्टमेंट उस रिफंड अमाउंट आपके रजिस्टर्ड बैंक अकाउंट में डाल देता है.

4.Viza मिलने में आसानी.

विदेश में घूमने शौक है या फिर पढ़ाई के लिए आपको विदेश जाना है,तो वहा जाने के लिए आपको वीजा की जरूरत पड़ती है.

तो ऐसे में जब आप वीजा अथॉरिटीज में वीजा के लिए अप्लाई करते हो,तो वहा आपसे पिछले 3 से 5 साल का ITR मांग सकती है.

वीजा अथॉरिटीज ITR के जरिए ये चेक करती है,की जो पर्सन उनके देश में जा रहा है,उसका फाइनेंशियल स्टेटस कैसे है?और इसके लिए सबसे बेस्ट प्रूफ होता है,किसी पर्सन की ITR.

5.कॉन्ट्रैक्ट हासिल करने के लिए

अगर आप बिजनेसमैन हो,और किसी डिपार्टमेंट या सेक्टर से अपने बिजनेस के लिए कॉन्ट्रैक्ट हासिल करना चाहते हो,तो वहा ITR बहुत काम आएगा.और खास तौर पर किसी गवर्मेंट डिपार्टमेंट से कॉन्ट्रैक्ट हासिल करने के लिए आपके पास पिछले 5 पाच साल का ITR होना जरूरी है.

6 Insurance

अगर आपको को बड़ा Insurance Cover (1 करोड़ या 1 करोड़ से ज्यादा) लेना है.तो ऐसे में Insurance कंपनी आपका ITR जरूर चेक करती है.क्युकी इस से इंश्योरेंस कंपनियों को आपके इनकम का अंदाजा लग जाता है.

7.लॉस को कैरी फॉरवर्ड करने के लिए.

अगर आप शेयर मार्केट या म्यूचुअल फंड में इन्वेस्ट करते है और आपको लॉस हो जाता है,तो उस लॉस को अगले साल कैरी फॉरवर्ड करने के लिए दिए गए टाइम लिमिट के अंदर आपको ITR फाइल करना जरूरी है.

क्युकी अगले साल आपको अगर कैपिटल गेन होता है,तो वो लॉस जो आपको पिछले साल हुआ था,उसे इस साल के फायदे के साथ Adjust किया जाता है.

जिस से आपको टैक्स छूट का फायदा मिल जाता है. लेकिन याद रखे ये बड़ा फायदा आपको तभी मिलेगा,जब आप अपनी ITR टाइम पर फाइल करोगे.

8 पेनल्टी से बचने के लिए

भारत का कोई भी पर्सन अगर टैक्स स्लैब के रेंज में आता है.और दिए गए टाइम पर ITR फाइल नहीं करता है,तो उस टाइम उसे 5 से 10,000 की पेनल्टी लग सकती है.तो उस पेनल्टी/फाइन से बचने के लिए आपको ITR जरूर फाइल करनी चाहिए.

9.नोटिस आने का खतरा नहीं रहता.

रेगुलर और टाइम टू टाइम ITR फाइल करने का सबसे बड़ा फायदा ये है की,अगर आप बड़ी बड़ी अमाउंट में बैंक में पैसा डिपोजिट करते हो,या फिर म्यूचुअल फंड में बड़ी अमाउंट में पैसे इन्वेस्ट करते हो,तो इनकम टैक्स डिपार्टमेंट की तरफ से नोटिस आने का खतरा नहीं रहता.

Also Read

ITR के बारे में कुछ सवाल जवाब

ITR का मतलब क्या होता है?

आईटीआर एक फॉर्म होता जिस में एक पर्सन अपने पिछले फाइनेंशियल ईयर का हिसाब किताब सरकार को देता है.

ITR फुल फॉर्म क्या है ?

ITR का फुल फॉर्म है,Income Tax Return

आईटीआर भरने का क्या फायदा है?

ITR फाइल करने के कई सारे फायदे है,जिसके बारे में हम ने उपर डिटेल में बात की है.

What is the last date of ITR for AY 2022-23?

31 july 2022

सीनियर सिटीजन मतलब क्या ?

जिन लोगो की उमर 60 साल या 60 साल से उपर होती है उन्हे सीनियर सिटीजन बोला जाता है.

सुपर सीनियर सिटीजन मतलब क्या ?

भारत में जिन लोगो की उमर 80 साल या 80 साल से उपर होती है,उन्हे सुपर सीनियर सिटीजन कहा जाता है.

आखरी बात

दोस्तो में उम्मीद करता हु की आज के हमारे आर्टिकल में दी गई जानकारी (ITR भरने के फायदे क्या होते है ?)आपको पसंद आई होगी.और ऐसे ही नए नए इनफॉर्मेशन रीड करने के लिए हमारे वेबसाइट पर दोबारा जरूर विजिट करे.

आज का आर्टिकल आपको कैसा लगा हमे नीचे कॉमेंट करके या फिर ईमेल के जरिए आप अपना Feedback हमारे साथ जरूर शेयर करे.क्युकी आपके कॉमेंट और Feedback हमे और अच्छे अच्छे आर्टिकल लिखने के लिए मोटिवेट करते है.

दोस्तो एक जरूरी बात,अगर आपको हमारे वेबसाईट पर लिखे आर्टिकल पसंद आते है,और आप अपनी खुशी से हमारी टीम को कुछ Monetary Support करना चाहते हो,तो आप नीचे दिए गए QR Code या फिर UPI ID ( vaibhav.t@ybl ) के जरिए हमें सपोर्ट कर सकते हो धन्यवाद.

4/5 - (4 votes)

2 Comments

  1. Aapka samjhane ka tarika bilkul mast lagta hai bilkul simple bhasha main agar school ki book bhai aapna likhi hoti to sach main har class main 1st aata main

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *